बैरकपुर के जूट मिल श्रमिकों का जेल भरो संघर्ष

Bairakpur jute mill workers protest

बैरकपुर, प. बंगाल के जूट मिल श्रमिकों ने ऐक्टू से संबद्ध बंगाल चटकल मजदूर फेडरेशन (बीसीएमएफ) और 20 अन्य यूनियनों के नेतृत्व में 21 जनवरी को जेल भरो संघर्ष के तहत पुलिस द्वारा लगाये बैरिकेडों को तोड़कर गिरफ्तारी दी. प्रदर्शनकारी श्रमिकों को गिरफ्तार कर टीटागढ़ पुलिस थाने ले जाया गया. इस जेल भरो संघर्ष में जूट मिल श्रमिकों की अगुवाई बीसीएमएफ के नबेंदु दासगुप्ता, बीसीएमयू के आनंदी साहू व गार्गी चटर्जी, एनजेडब्लूयू के गरीब साहू और एनएफसीयू के लियाकत अली ने किया.

श्रमिकों की मजदूरी पर करार के मामले में सरकार के टालमटोल के रवैये के खिलाफ संघर्षरत हैं. 8-9 जनवरी की देशव्यापी हड़ताल में भी राज्य के हजारों-हजार जूट मिल श्रमिकों ने सरकारी धमकियों, आतंक और हमलों के वातावरण के बावजूद बढ़चढ़ कर भाग लिया था. 

 

वर्षः 13
अंकः 11